भगतसिंग-सिर्फ आदर्श नहीं, दुनिया है मेरी!

१० साल की उम्र रही होगी जब इस महान क्रांतिकारी नेता की पहली पहचान इतिहास के पन्नों में हुई.तब से लेकर आज तक २ दशक से ज्यादा वक्त गुजर गया और इस क्रांतिकारी नेता का प्रभाव और उनकी विचारधारा में विश्वास इतना गहरा होता गया की मुझे दुनिया की कोई विचारधारा तो दूर की बात खुद भगवान जैसी किसी शक्ति के ऊपर ये हस्ती दिखाई देने लगी.

Advertisements

भगतसिंग..सिर्फ आदर्श नहीं, दुनिया है मेरी!

शहीद भगतसिंग ( २८ सितम्बर १९०७ (कुछ इतिहासकारों के मुताबिक २७ सितम्बर १९०७) – २३ मार्च १९३१ ).

१० साल की उम्र रही होगी जब इस महान क्रांतिकारी नेता की पहली पहचान इतिहास के पन्नों में हुई.तब से लेकर आज तक २ दशक से ज्यादा वक्त गुजर गया और इस क्रांतिकारी नेता का प्रभाव और उनकी विचारधारा में विश्वास इतना गहरा होता गया की मुझे दुनिया की कोई विचारधारा तो दूर की बात खुद भगवान जैसी किसी शक्ति के ऊपर ये हस्ती दिखाई देने लगी.

भगवान या उस सर्वशक्तिमान इश्वर से ऊपर इसीलिए क्योंकि भगतसिंग सिर्फ एक क्रांतिकारी नहीं एक सोच है,एक विचारधारा आत्यंतिक राष्ट्रवाद और मानवता की, विवेकशीलता और निडरता इतनी की खुद भगवान ने बनाई दुनिया में खामियाँ और दुःख देखकर फांसी के पहले मौत सामने रहते हुए भी ‘दुःख और तकलीफ की बनाई दुनिया के जिम्मेदार भगवान में ना तो मुझे यकीन है और ना मौत का खौफ’ जैसी निडर और सच्ची सोच इस देश को दी.

अक्सर देखा गया है की एक तरफ कोई नास्तिक बन जाता है तो खुद आत्मकेंद्रित बन कर दुनिया की सारी सुखों के मजे लेने में ही वक्त गुजरने लगता है. दूसरी तरफ भगवान पर विश्वास करनेवाले कोई भी हों अपने किये अच्छे कामों के बदले मोक्ष की प्राप्ति की इच्छा सुप्त रूप से रखते ही है! वहीँ शहीद भगत सिंगजी ने ये सवाल हमेशा खड़ा किया ‘आप का सर्व शक्तिमान इश्वर गुनहगार को तब ही क्यों नहीं रोकता जब वो गुनाह कर रहा हो?’. मात्र इसी सवाल से ही इश्वर या उस सर्व शक्तिमान शक्ति की कमजोरी उन्होंने पूरी दुनिया को दिखाई.

लेकिन शहीद भगतसिंगजी ने ना तो मोक्ष प्राप्ती की आशा ना किसी स्वर्ग जैसी जिंदगी पे विश्वास कभी किया!उन्हीं के भाषा में कहें तो उन्होंने कहा जैसे ही मेरी सांसे फांसी के फंदे पर लटकते हुए रुकेंगी मेरा शरीर वहीँ ख़त्म हो जायेगा.सब कुछ वहीँ ख़त्म होगा.ऐसी सोच के बावजूद इतनी कम उम्र में उन्होंने देश के लिए अपने प्राण न्योछावर कर के त्याग के किसी और मिसाल से कहीं अधिक शुद्ध बलिदान का अनूठा उदाहरण पेश किया, जिसमे कोई स्वार्थ था ही नहीं, और यही हिंद का असली रूप है, जब देश पे मर मिटने की बात आये तो हिंद के सपूत मौत को किस तरह हसते हुए गले लगाते है ये उन्होंने दुनिया को दिखाया खास तौर पर तब जब ये देश भुखमरी और दरिद्रता से जूझ रहा था. और दूसरी तरफ वो गद्दार है जो आज विदेशों में जाकर या कई लोग देश में रहकर अपने ही देश को गालियाँ देने में धन्यता मानते है.

मैंने आज तक न जाने कितने आंदोलन किये, कभी जीत मिली तो कभी सड़क के किनारे अकेले रह कर अनशन किया.लेकिन सच्चाई ये है की वो हर जीत, भ्रष्ट सिस्टिम से भिड़ने का हर जोश का श्रेय सिर्फ इस महान क्रांतिकारी को जाता है.भगतसिंग की विचारधारा के बिना कम से कम मेरे लिए तो संभव ही नहीं था ना आगे कभी होगा.

परिवार में भी कोई कुछ करता है तो ये सोच कर की परिवार का सदस्य आगे जाकर उसका सहारा बनेगा.लेकिन इस महान क्रांतिकारी ने बिना ये अपेक्षा किये की आनेवाली पीढ़ी उनके त्याग को याद करेगी या नहीं, उनके सपने पुरे करेगी या नहीं अपने प्राण न्योछावर कर दिए.

इसीलिए मेरी जिंदगी में मुझे भगतसिंग के सपनों को पूरा करने की एकमात्र चाहत के अलावा जिंदा रहने की कोई वजह आज तक नहीं दिखी ना कभी दिखेगी.कठिन से कठिन क्षणों में इस महान क्रांतिकारी के मात्र नाम से ही मेरी सारी चिंताए मिट जाती है.मुझे किसी भगवान या सर्वशक्तिमान परमात्मा की जरुरत नहीं पड़ती.

भगतसिंग की तरह शहादत नसीब हो या जब तक जिंदा रहूँ उन के सपनों को पूरा करने की कोशिश करता रहूँ यही ख्वाहिश. इसीलिए ये क्रांतिकारी सिर्फ आदर्श नहीं, दुनिया है मेरी! उनकी जयंती पर उन्हें शतशः नमन….जयहिंद!

-अॅड.सिद्धार्थशंकर अ. शर्मा
संस्थापक अध्यक्ष- भारतीय क्रांतिकारी संघटना

Don’t forget to like, share this article & also join our movement against the corrupt system on Twitter & Facebook Pages as below

https://www.facebook.com/jaihindbks

https://twitter.com/jaihindbks

-Adv.Siddharthshankar Sharma
Founder President-Bharatiya Krantikari Sangathan

 

You may be Lawyer, Doctor, Engineer or even an Artist, Turn Your Talent or Passion into Blogging by Building Your Own Website Without the Help of Professional Programmer With Unlimited Earning Options on WordPress which powers 30% of the world websites.

WordPress.com

Must Read-Legal Awareness Articles for Common Man as follows-
1) How to File Case Without Lawyer or In Person with Sample Draft
2) Legal Remedy & Complaints Against Police- State Police Complaint Authority
3) Case Laws against Illegal Fee Hike, Child Harassment & Expulsion by the Schools
4) How to get Central & State government’s Acts & Rules at One Place
5) How to Check CBSE Affiliation of the School
6) Getting Self Declaration & Audit Statement of School Under RTE Act 2009
7) Case laws & Legal Provisions against Child Harassment
8) Remedy to Stop & Ban Promotional Telemarketing Caller in 9 days-TRAI Facility7
9) The Electricity Act 2003- 15 Days Prior Written Notice Must for disconnecting Electricity
10) The Maharashtra Public Records Act 2005-Important Provisions
11) Implement G.R. banning Compulsion of Stationeries by Schools-Bombay High Court
12) Information Commissioner slaps fine under RTI Act 2005 to Education Ministry
13) The Government blocks Child Rights Panel Functioning With Pre-planned Conspiracy
14) Haryana Education Department Directed to Pay Rs.4000/- Compensation under RTI Act 2005
15) Supreme Court-Question of Parent Teacher Committee’s Right to Approach DFRC Open

Advertisements

Bharatiya Krantikari Sangathan- In Brief…

Organization aims for revolution in India through legal awareness among common people as well as by the way of protests & movements.

Before sending request to join this organization its humbly requested organization does not want or wish to make member any person believing in any anti national ideology based on Religion caste, language whether in mild or aggravated form…

Those who consider their Religion, Caste, and Region above the Indian nationalism are considered enemy by the organization…even if people consider these things secondary to the nationalism they don’t stand well in our eyes..absolute loyalty to Indian nationalism has to be heartly believed and we respect and want to be associated with true believers of Indian Nationalism only…

However we don’t support blind Hinduism or Blind Secularism too…We condemn the caste system of Hindu religion as well as polygamy and anti women religious laws of Islam too… We firmly believe Uniform Civil Code is must to make Indian nationalism as a complete uniform force…
*Extremely Important & Must Read For Common People-
Do not forget to check our All the Legal Awareness Articles For Common Man to Fight against Corrupt System in English, Link is as follows–
https://wp.me/P9WJa1-PL

We would like to be associated with those people who believe firmly that its the India greatest of the all countries in the world and wish to bring back its old lost glory again. and it will happen for sure…History has many such examples…The once mighty British empire stands nowhere in the global scenario today…India has a history of thousands of glorious years…few centuries of weakness cant mean in anyway that we are the inferior than any other country..

Recently we went ahead of the British economy…the same so called ‘British superiors’ who had ruled us and opined that Indian people will ruin the country lag behind us…
Hence those who believe India is inferior to any other nation in the world should be considered as traitors and must be taken care of with all possible means…

To put in brief I am here to fulfill the dreams of Shaheed Bhagatsing, Chandrashekhar Azad, Netaji Subhashchandra Bose and Dr. Babasaheb Ambedkar…
We want to bring ancient glory of this great nation back.. I am sure Hind will again rise as superpower and guide the whole world with its unique ideology and principles to which no nation was and will ever be match…Jaihind! 🙂

Check our All the Top Legal Awareness Articles to Fight against Corrupt System in Single Page through Following Link-
https://wp.me/P9WJa1-PL

To get the latest update about articles like above, don’t forget to join our Twitter & Facebook Pages, Links are as below
https://www.facebook.com/jaihindbks
https://twitter.com/jaihindbks

Please Share this article with Social Media Buttons available at the bottom of the page & also Subscribe Our Website by entering your email address in Subscribe Box below to get the Legal Awareness Articles through email.
-Adv.Siddharthshankar Sharma

Founder President-Bharatiya Krantikari Sangathan

Disclaimer- None of the authors, contributors, administrators, or anyone else connected with this website, in any way whatsoever, can be responsible for your use of the information contained in or linked from these web pages. The visitors are advised to take the opinion of their learned counsels before proceeding & relying upon the information above given before approaching any authority, court or commissions.

भारतीय क्रांतिकारी संगठन-‘संक्षिप्त’में…

भारतीय क्रांतिकारी संघठन-भारत में भ्रष्टाचार तथा अन्याय के खिलाफ आम लोगों में कानून के प्रति जन जागृती तथा जन आंदोलन के मार्ग से क्रांती का उद्देश प्राप्त करने का संघठन का उद्देश है. जयहिंद!

नम्र निवेदन है, खुद के जाती, भाषा या धर्म को ‘भारतीयत्व’ से ऊपर समझनेवाले के लिये इस संघठन में कोई जगह नहीं…जो हिन्द का नागरिक खुद को  शुरू और आखिर में सिर्फ और सिर्फ भारतीय ही समझते है… जिन्हें भारत दुनिया का सब से खुबसूरत देश लगता है और इस महान देश का वैभव जिन्हें फिर से वापस लाना है, ऐसा उद्देश रखनेवाले जरुर जुडे…ऐसे लोगो को साथ प्रार्थनीय है…

अपना भारत आज हो सकता है थोड़ा कमजोर हो, कुछ भयानक बुराईया भी देश में मौजूद हो, लेकिन इसके चलते अगर हिंद को कोई हमेशा कोसता हो, उसे किसी दुसरे मुल्क से बुरा मानता हो…तो ऐसे लोग संघठन की नजरों में गद्दार है जिन्हें देश के बाहर खदेड़ देना चाहिए या ख़त्म कर देना चाहिए…क्योकि सच्चाई यही है की हजारो वर्षों का गौरवशाली इतिहासवाला हमारा भारत भले कुछ सेकड़ो साल कमजोर होने से आज कुछ पिछड़ गया हो लेकिन उसके चलते उसे कोसना, दुनिया के सामने खुद को भारतीय कहना शर्मनाक लगता है उसे संघठन गद्दार ही कहेगी…

हर राष्ट्र अच्छे और बुरे दौर से गुजरता है…जिस ब्रिटेन के साम्राज्य का सूर्य कभी डूबता नहीं था आज वह दुनिया में एक छोटा सा मुल्क भर ही रह गया है…इसी ब्रिटेन के मुर्ख पंतप्रधान विंस्टन चर्चिलने ‘भारत के लोग सरकार नहीं चला सकते, वो इस देश को बर्बाद कर देंगे’ ऐसा कहा था..आज उसी ब्रिटेन को अर्थव्यवस्था को हमने हाल ही में पछाड़ दिया… हिंद जरुर दुनिया में फिर से अपना अव्वल स्थान प्राप्त करेगा और दुनिया को फिर प्रकाश देता रहेगा….

मुझे सिर्फ भारत और भारतीयत्व से लगाव है..मेरे लिए ये दोनों दुनिया के किसी भी चीज से जादा कीमती है…मुझे अँधा धर्मवाद भी पसंद नहीं ना लंगडा धर्मनिरपेक्षवाद भी…मुझे हिन्दू धर्म की जाती व्यवस्थासे उतनी ही नफरत है जितनी मुझे इस्लाम के बहुपत्नीत्व और महिलाविरोधी नियमोसे है…इसीलिए समान नागरी संहिता Uniform Civil Code ही हिन्द का राष्ट्रवाद बचाने के लिए एकमात्र रास्ता है…

संक्षिप्तमें कहना चाहूँ तो ‘शहीद भगतसिंग, चंद्रशेखर आझाद, नेताजी सुभाषचंद्र बोस और डॉ.बाबासाहब आंबेडकर के सपनों को पूरा करना यही मेरी जिंदगी का एकमात्र लक्ष्य है’…और ऐसी सोच को एक रखना जिनका उद्देश है उस हर व्यक्ति को मैं इस आंदोलन में जुड़ने का आवाहन करता हूँ…जयहिंद!

-ॲड.सिद्धार्थशंकर शर्मा- संस्थापक अध्यक्ष- भारतीय क्रांतिकारी संगठन.
https://www.facebook.com/jaihindbks
https://twitter.com/jaihindbks

 

Must Read-Legal Awareness Articles for Common Man as follows-
1) How to File Case Without Lawyer or In Person with Sample Draft

2) Legal Remedy & Complaints Against Police- State Police Complaint Authority
3) Case Laws against Illegal Fee Hike, Child Harassment & Expulsion by the Schools
4) How to get Central & State government’s Acts & Rules at One Place
5) How to Check CBSE Affiliation of the School
6) Getting Self Declaration & Audit Statement of School Under RTE Act 2009
7) Case laws & Legal Provisions against Child Harassment
8) TRAI Remedy to Stop, Ban & Punish the Promotional Telemarketing Caller within 9 days
9) The Electricity Act 2003- 15 Days Prior Written Notice Must for disconnecting Electricity
10) The Electricity Act 2003- Remedy against Wrong & Excessive Electricity Bills
11) How To File Online RTI Application & First Appeal at State of Maharashtra
12) The Maharashtra Public Records Act 2005-Important Provisions
13) Implement G.R. banning Compulsion of Stationeries by Schools-Bombay High Court
14) Maharashtra State Commission for Women- Complaint Mechanism, Powers & Address
15) Address of Police Complaints Authority of Maharashtra, Pune & Navi Mumbai
16) Information Commissioner slaps fine under RTI Act 2005 to Education Ministry
17) The Government blocks Child Rights Panel Functioning With Pre-planned Conspiracy
18) Haryana Education Department Directed to Pay Rs.4000/- Compensation under RTI Act 2005